Teacher’s Day in Hindi-शिक्षक-दिवस क्यों और कैसे मनाते हैं

Teacher’s Day in Hindi: शिक्षक-दिवस हर साल 5 सितम्बर को मनाया जाता है|यह दिन शिक्षको को समर्पित है, जिसे हम सभी बहुत ही हर्षोल्लास के साथ मनाते है| हमारे देश के सर्वप्रथम उपराष्ट्रपति डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जन्मदिन को ही शिक्षक-दिवस (Teacher’s Day in Hindi) के रूप में मनाते हैं|

Description of Teacher’s Day in Hindi-शिक्षक-दिवस का विवरण

हमारे देश में शिक्षक-दिवस 1962 ईस्वी से मनाया जा रहा हैं|डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी भारत देश के एक महान विद्वान थे, जिन्होंने दर्शनशास्त्र में भारत का नाम पुरे विश्व में प्रख्यात किया था|राधाकृष्णन जी को 1952 ईस्वी में भारत देश का सर्वप्रथम उपराष्ट्रपति नियुक्त किया गया था|

शिक्षा एवं राजनीती के क्षेत्र में उनके योगदान को देखते हुए 1954 ईस्वी में भारतरत्न से समान्नित किया गया था|सर्वपल्ली जी 1962 ईस्वी में भारत देश के दुसरे राष्ट्रपति बने |तथा 1962 ईस्वी में डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी के शिक्षा एवं राजनीती के क्षेत्र में दिए गये योगदान को देखते हुए उनके सम्मान में उनके जन्मदिन 5 सितम्बर के दिन को शिक्षक-दिवस के रूप में मनाने का घोषणा किया गया था, तभी से हम सब 5 सितम्बर के दिन को शिक्षक-दिवस के रूप में मनाकर देश के सभी शिक्षकों के प्रति सम्मान व्यक्त करते हैं|

शिक्षक-दिवस लगभग पुरे विश्व के 100 से अधिक देशों में मनाया जाता है| सभी देशों में अलग-अलग तिथियों में मनाया जाता है, परन्तु UNESCO ने इसकी आधिकारिक घोषणा 5 अक्टूबर 1954 ईस्वी में की थी, जो कि विश्व शिक्षक-दिवस के रूप में घोषित हुआ|

कौन थे डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन

teacher's day in hindi, shikshak diwas

डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी का जन्म 5 सितम्बर 1888 में तमिलनाडु के तिरुमनी नामक गाँव में एक ब्राहमण परिवार में हुआ था|इनके पिता जी का नाम सर्वपल्ली विरास्वामी था|कृष्णन जी को बचपन से ही शिक्षा के प्रति बहुत ही लगाव था, इन्होने शुरू से ही स्वामी विवेकानंद और वीर सावरकर को अपना आदर्श माना था|

1909 ईस्वी में इनको मद्रास प्रेसीडेंसी कॉलेज में दर्शनशास्त्र का अध्यापक तथा 1916 ईस्वी में मद्रास रेजिडेंसी कॉलेज में सहायक प्रध्यापक नियुक्त किया गया|1918 ईस्वी में मैसूर यूनिवर्सिटी में दर्शनशास्त्र में प्रोफेसर चुने गए इसके पश्चात् ऑक्सफ़ोर्ड यूनिवर्सिटी में भारत के दर्शनशास्त्र के प्रोफेसर के रूप में नियुक्त किये गये|कृष्णन जी जिस कॉलेज से एम.ए किये उसी कॉलेज के उप-कुलपति नियुक्त किये गये थे |

राधाकृष्णन जी 13 मई 1952 से 13 मई 1962 तक भारत देश के उपराष्ट्रपति के रूप में कार्यरत थे, तथा 13 मई 1962 को ही वे भारत देश के दुसरे राष्ट्रपति के रूप में निर्वाचित किये गए|भारत देश में शिक्षा एवं राजनीती के क्षेत्र में इनका बहुत ही महत्वपूर्ण योगदान था|इनके देश के प्रति दिए गये योगदान को देखते हुए भारत सरकार के द्वारा 1954 ईस्वी में राधाकृष्णन जी को देश के सर्वोच्च सम्मान “भारतरत्न” से सम्मानित किया गया था|

राधाकृष्णन जी को 1962 में ब्रिटश एकेडमी का सदस्य बनाया गया एवं पॉप जॉन पाल ने “गोल्डन स्पर ” भेंट किया तथा इंग्लैंड सरकार के द्वारा इनको “आर्डर ऑफ़ मेरिंट ” का सम्मान प्राप्त हुआ|राधाकृष्णन जी का निधन 17 अप्रैल 1975 में चेन्नई में हुआ था|

7 Lines of Teacher’s Day in Hindi-शिक्षक-दिवस पर 7 लाइन

  • भारत में हर साल 5 सितम्बर को शिक्षक-दिवस बहुत ही हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है|
  • भारत के प्रथम उपराष्ट्रपति एवं दर्शनशास्त्र के महान विद्वान डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी के जन्मदिन 5 सितम्बर को ही शिक्षक-दिवस के रूप में मनाया जाता हैं |
  • इस दिन सभी स्कूल, कॉलेज, एवं यूनिवर्सिटीयों में डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी का जन्मदिन मनाते हैं एवं उनको श्रधांजलि अर्पित किया जाता हैं|
  • इस दिन शिक्षकों के द्वारा विद्यार्थियों के बीच चॉकलेट, टॉफी या मिठायां बाटी जाती हैं|
  • शिक्षक-दिवस के दिन अनेक-अनेक प्रकार के कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है|
  • विद्यार्थियों को राधाकृष्णन जी के बारे में विस्तार पूर्वक बताया जाता है|
  • इस दिन विद्यार्थियों के द्वारा यथासंभव उपहार शिक्षकों के सम्मान में दिया जाता हैं|

शिक्षक दिवस के दिन क्या-क्या करते हैं :

  • इस दिन स्कूल, कॉलेज, यूनिवर्सिटीयों में पढ़ाई नहीं होती हैं|
  • शिक्षक दिवस के दिन स्कूल, कॉलेज, यूनिवर्सिटीयों को बहुत अच्छी तरीके से सजाया जाता है|
  • सभी स्टूडेंट्स एवं शिक्षक-गण मिलकर डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी का जन्मदिन केक काटकर मनाते हैं तथा उनको श्रधांजलि अर्पित करते है|
  • सभी स्टूडेंट्स शिक्षकों के सम्मान में यथासंभव उपहार शिक्षकों को देते हैं|
  • कई स्कूल, कॉलेज , या यूनिवर्सिटी में राधाकृष्णन जी के सम्मान में अनेक प्रकार के कार्यक्रम किये जाते हैं|
  • शिक्षकों के द्वारा विद्यार्थियों को चॉकलेट, टॉफी या अन्य-अन्य प्रकार के मिठाईयों का वितरण किया जाता है|
  • उस दिन शिक्षकों के द्वारा सभी विद्यार्थियों को डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी के बारे में विस्तार पूर्वक बताया जाता है ताकि विद्यार्थियों को उनके बारे में सभी बातों का ज्ञान हो|

दुनिया के अलग-अलग देशों में शिक्षक-दिवस की तिथियाँ

देश का नामतारीख
बांग्लादेश5 अक्टूबर
ऑस्ट्रेलियाअक्टूबर के आखिरी शुक्रवार
चाइना10 सितम्बर
जर्मनी5 अक्टूबर
ग्रीस30 जनवरी
मलेशिया16 मई
पाकिस्तान5 अक्टूबर
श्रीलंका6 अक्टूबर
यूके5 अक्टूबर
यूएसएमई के पहले हफ्ते में नेशनल टीचर वीक मनाया जाता है
ईरान2 मई

English Summery

Teacher’s Day in Hindi: Teacher’s day is celebrated in India on 5 September every year. We all celebrate this day as birthday of Dr Sarvapalli Radhakrishanan who was the first vice president of India And a great Teacher also.

Teacher’s Day in Hindi-निष्कर्ष

हम सब के जीवन में गुरुओं की अहम् भूमिका होती है| गुरु ही हमें अज्ञानता से ज्ञानता की ओर ले जाते है जिससे हमे जीवन में सफलता मिलती है| अत: हम सब का कर्त्तव्य है की हमे सदेव गुरुओं का सम्मान एवं आदर करना चाहिए|

Read Also

बाल-दिवस (Children’s Day) के बारे में कुछ रोचक तथ्य

अगर आपको हमारी ये पोस्ट “Teacher’s day in hindi” के बारे में और अधिक जानकारी है, या दी गयी जानकारी में कुछ गलत लगे तो तुरंत हमें कमेंट में लिखे हम इसे अपडेट करते रहेंगे| अगर आपको ये ” Teacher’s day in Hindi” पोस्ट अच्छी लगी हो तो अपने दोस्तों के साथ शेयर करना न भूले |